कोतवाली पुलिस ने छापा मारकर घर में चल रहा जुए का पकडा, अड्डा

Share On :

बदायूं। के सहसवान : कोतवाली पुलिस ने छापा मारकर एक घर में चल रहा जुए का अड्डा पकड़ लिया। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया जबकि चार फरार हो गए। मौके से हजारों रुपये की नकदी, चार बाइकें, मोबाइल, ताश की गड्डियां आदि सामान बरामद हुआ। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर पकड़े गए आरोपियों को जेल भेज दिया।

मंगलवार शाम पुलिस को सूचना मिली कि भवानीपुर खैरू में सद्दन पुत्र तय्यब अली अपने मकान में पैसे लेकर जुआ खिलाता है। पुलिस ने एसएसपी चन्द्रप्रकाश से सर्च वारंट लिया। देर शाम सीओ इरफान नासिर खान के निर्देश में प्रभारी कोतवाल आरपी शर्मा के नेतृत्व मे एसआई जितेंद्र कुमार, कां.रामनरेश, सौरभ, महिला कां.विमलेश, सोनिया आदि की टीम ने सददन के घर पर छापा मारा। छापा लगते ही चार लोग दीवार फांदकर फरार हो गए जबकि पांच लोगों को पुलिस ने धर दबोचा। पुलिस को मौके से 26 हजार सात सौ रुपये की नकदी, ताश की गड्डियां, सिगरेट, लाइटर, आठ मोबाइल, चार मोटर साइकिलें बरामद हुईं। पूछतांछ में पकड़े गए आरोपियों ने अपने नाम सद्दन पुत्र तय्यब, बाबू खान पुत्र वाहिद खान, आसिफ पुत्र मल्लू निवासीगण भवानीपुर, जमशेद पुत्र साबिर अली निवासी अमनपुर, शफीक अहमद पुत्र रहीस अहमद निवासी काजी मुहल्ला सहसवान बताए और फरार साथियों के नाम अच्छन पुत्र शकूर, हमसर पुत्र रसीद, मुहम्मद रूम पुत्र जमीर हसन, फिसरत पुत्र इस्माइल निवासी भवानीपुर बताए।

प्रभारी कोतवाल आरपी शर्मा ने बताया कि आरोपी सद्दन अपने मकान में जुआ खेलता है और पैसे लेकर जुआं खिलाता है। यह लोग शातिर किस्म के पुराने अपराधी है। आरोपी सद्दन पर जानलेवा हमला, हत्या, आ‌र्म्स एक्ट, गैंगस्टर, घर में घुसकर मारपीट, फिसरत पुत्र इस्माइल पर अपहरण, जानलेवा हमला, चोरी, आरोपी अच्छन पर अपहरण, बलवा, जानलेवा हमला, गैंगस्टर एक्ट, बाबू खान पर महाराष्ट्र में और आरोपी शफीक अहमद पर दिल्ली, मुंबई के विभिन्न थानों में मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से लोगों में हडकंप मचा हुआ है।

संरक्षणदाता पहुंचे सलाखों के पीछे

सहसवान : सीओ इरफान नासिर खान ने बताया कि अधिकांश आरोपियों के परिवारीजन राजनैतिक पहुंच रखते है और क्षेत्र में गलत काम करने वाले लोगों की सिफारिशें किया करते थे। आरोपी सद्दन पूर्व प्रधान का भाई, शफीक अहमद सभासद से और जमशेद मौजूदा प्रधानपति है। इन लोगों के पकड़े जाने से आपराधिक लोगों को संरक्षण मिलना बंद हो जाएगा।

loading...
Comments
No comments yet. Be first to leave one!

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News