एडीजी के सख्त निर्देश सट्टा, जुआ हुआ तो थाना इंचार्ज जाएंगे जेल

Share On :

बदायूं। जिले की कानून-व्यवस्था की समीक्षा करने आए एडीजी प्रेमप्रकाश ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। एडीजी ने अवैध धंधों पर लगाम लगाने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जुआ, सट्टा और अवैध शराब का धंधा मिला तो संबंधित थाना प्रभारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर उसको जेल भेजा जाएगा। एडीजी ने स्पष्ट किया कि इस तरह की शिकायत मिलने पर अधिकारियों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

शनिवार को वह पुलिस लाइंस सभागार पहुंचे, जहां पुलिस अधिकारियों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि शिवरात्रि और होली पर शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अभी से कमर कस लें। सांप्रदायिक स्थानों को ¨चहित कर खुराफातियों को पहले ही नोटिस पकड़ा दें, ताकि वह कानून-व्यवस्था को चुनौती न दे पाएं। शिवरात्रि पर जल लेकर जाने वाले श्रद्धालुओं के मार्ग में कोई बाधा न हो इसपर पूरा ध्यान दिया जाएगा। इसके साथ ही भंडारा करने वाले का भी सत्यापन कर लिया जाए। धार्मिक स्थल पर जाने वाली महिलाओं के साथ चेन स्ने¨चग जैसी घटनाएं हुईं तो पुलिस पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि थाना प्रभारी से महीनादारी का खेल बिल्कुल नहीं चलने दिया जाएगा। वह खुद भी किसी से कुछ नहीं लेते और न ही उनके उच्चाधिकारी किसी से कोई मांग करते हैं, इसलिए जो भी अधिकारी महीना लेगा तो वह कार्रवाई के लिए खुद जिम्मेदार रहेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जो पुलिसकर्मी अच्छा कार्य करेगा उसको सम्मानित कर उसका फोटो संबंधित थाने पर लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी थाना प्रभारियों से शपथ पत्र लिए जाएंगे कि उनके थाना क्षेत्र में कोई भी अवैध धंधा नहीं चल रहा है। इसके बाद अधिकारी अपने स्तर से वहां जांच कराएंगे। गलती मिलने पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर एसएसपी चंद्रप्रकाश, एसपी सिटी कमल किशोर, एसपी देहात डा. सुरेंद्र प्रताप ¨सह आदि मौजूद रहे।
सहसवान : एडीजी प्रेम प्रकाश ने शनिवार को कोतवाली का निरीक्षण किया और अधीनस्थों को अभिलेखों के रखरखाव व कानून व्यवस्था संबंधी दिशा-निर्देश दिए। साथ ही प्रचलित अपराधियों की नियमित निगरानी के आदेश दिए।शाम करीब साढ़े चार बजे कोतवाली पहुंचे एडीजी ने सबसे पहले मालखाना और शस्त्रों का रखरखाव देखा। उन्होंने प्रचलित अपराधियों की नियमित निगरानी करने के निर्देश दिए।

loading...
Comments
No comments yet. Be first to leave one!

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News